What is DBMS in hindi ?

What is DBMS (DBMS क्या है ?)


आज हम DBMS को बड़े आसान शब्दो मे समझने की कोशिश करेंगे | DBMS को जानने से पहले हम कुछ मह्त्वपूर्ण शब्दो को जान लेते है |

DATA :-  कंप्यूटर की भाषा मे data का अर्थ होता है – की वो सारी चीजे जो की कंप्यूटर की मेमोरी मे space ले रही है उन्हें हम डाटा कहते है | उदहारण के लिए अगर हम नोटपैड open करके कुछ भी टाइप करते है कंप्यूटर के लिए वो भी  एक डाटा है क्योकि वो मेमोरी मे स्पेस लेता है | Data कोई Text, image , video , Sound में से कुछ भी हो सकता है |

Database :- डेटाबेस well organized डाटा का कलेक्शन होता है | जिससे की हम डाटा को आसानी से access , manage , ओर update आदि कर सकते है |


DBMS क्या होता है ?

DBMS का पूरा नाम  Database Management System है | DBMS एक सॉफ्टवेयर सिस्टम होता है | DBMS सॉफ्टवेयर की मदद से user  डाटा को store कर सकते है | Data पे delete , edit , search , update आदि ऑपरेशन परफॉर्म करके user , Database  को आसानी से maintain कर सकते है |

Some Popular DBMS Software :- 

  • MySQL
  • Oracle
  • SQLite
  • IBM DB2
  • Microsoft SQL Server

Characteristics of DBMS

  • DBMS मे डेटा रिडंडंसी को Control किया जा सकता है। जो की इसकी सबसे बड़ी विशेषता हैं |
  • DBMS सॉफ्टवेयर की मदद से हम real word मे जितने प्रकार का डाटा होता है उनको store कर सकते है |
  • DBMS system के दवारा एक समय पर एक से अधिक यूजर डेटाबेस को access कर सकते है |
  • डाटा को share कर सकते है |
  • डाटा की security होती है जिससे की कोई unauthorised user डेटाबेस को एक्सेस न कर सके |
  • डेटाबेस corrupt होने पर Database का backup ले सकते है |

Types of DBMS – DBMS के प्रकार

DBMS चार (4 ) प्रकार के होते है |

  1. Hierarchical DBMS
  2. Network DBMS
  3. Relational DBMS
  4. Object – oriented DBMS
DBMS के Types को पूरा  पड़ने के लिए यह क्लिक करे |

Advantages of DBMS – DBMS के लाभ

  • Controls database redundancy: यह data redundancy को नियंत्रित कर सकता है क्योंकि यह सभी डेटा को एक single database file में store करता है और उस रिकॉर्ड किए गए डेटा को डेटाबेस में रखा जाता है।
  • Data sharing: DBMS में, एक organization के authorized users अन्य users के बीच डेटा को share कर सकते हैं।
  • Easily Maintenance: Centralized nature होने के कारण डेटाबेस को आसानी से maintain कर सकते है।
  • Backup: DBMS हमे डाटा को सुरक्षित रखने के लिए backup और recovery subsystems प्रदान करता है। जब हार्डवेयर और सॉफ़्टवेयर failures होते / होने की संभावना होती है तो यह डेटा का automatic backup बनाता है और यदि आवश्यक हो तो डेटा को restores करता है।
  • multiple user interface: यह graphical user interfaces, application program interfaces जैसे विभिन्न प्रकार के यूजर इंटरफेस प्रदान करता है |

Disadvantages of DBMS

  • Cost of Hardware and Software: DBMS सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए high speed data processor और large size memory की आवश्यकता होती है।
  • Higher impact of failure: यदि किसी भी कारण से DBMS विफल होता है तो डेटा हमेशा के लिए खो सकता है।

निवेदन :- आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें email के द्वारा बताइए तथा इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ share करें |

RECOMMENDED POST :
DBMS architecture in hindi 
Three-Schema Architecture in Hindi
DBMS and RDBMS
File system and database system
Comparison Between Database and Data Warehouse